Hindi Shayaris – 3

जादू वो लफ़्ज़ लफ़्ज़ से करती चली गयी
और हमने बात बात में हर बात मान ली

बचपन में तो शामें भी हुआ करती थी
अब तो बस सुबह के बाद रात हो जाती है!

कहाँ ढूँढ़ते हो तुम इश्क़ को ऐ-बेखबर
ये खुद ही ढून्ढ लेता है जिसे बर्बाद करना हो …

मेरी उम्र भी लग जाये उसे
मेरा दिल लगा हुआ है जिससे

सुकूँ कहाँ है कम्बख्त इस ज़माने में
एक एक शख़्स दिल लुभा रहा
दूसरे को सताने में…..

इतनी हिम्मत तो नहीं कि दुनिया से छीन सकूँ तुझे
लेकिन मेरे दिल से तुझे कोई निकाल सके
ये हक़ तो मैंने अपने आप को भी नहीं दिया.

जो कभी डरी ही नहीं मुझे खोने से…
वो क्या अफसोस करती होगी…
मेरे ना होने से…..

ये जो तुम लफ़्हज़ों से बार बार चोट देते हो ना …. दर्द वहीं होता है जहाँ तुम रहते हो 💔💔

बेमतलब बेफिजूल

बेकार नहीं है

ये नये दौर के रिश्ते हैं

बस वफादार ही नहीं है

अगर नज़रिया खूबसूरत हो
तो हर चीज खूबसूरत लगती है
नहीं तो पानी से भरी नदियाँ भी
बंजर ही लगती हैं

या तो छोड़ दो , या बाहों में भर लो

अब यह इश्क की दूरियां सहन नहीं होती।

गर्दिश भी, लाचारी भी
और उस पर खुद्दारी भी,

कैसे कर लेते हो यार ?
इश्क़ भी, दुनियादारी भी!

मेरी बाहें जब तरसती हैं
तुम्हे अपने सीने से लगाने को!

मैं कागज पे उतार के तुम्हें,
अक्सर अपने गले लगाता हूँ.

हो सके तो,
दूर रहो मुझसे…

टूटा हुआ हूँ..
चुभ जाऊँगा.. ! !

नफरत भरी निगाहों से मत देखो मुझे,

जीवन का हर पहलू तुझ ही से तो जुड़ा है।

मत पूछना हाल ही में कैसा हूं,

तुझसे दूर होकर बस परेशान सा हूं।

एक सर्वे के अनुसार

भारत मे 90 प्रतिशत लड़कियां

अपने बाप से पूछे बिना ही
बोल देती हैं कि

पापा नही मानेंगे
😝😜

कुछ तो हुआ है मुझे ,

कि मैं पहले जैसा नहीं रहा,

तू तू रही पर मैं मैं नहीं रहा।

मंदिर गया था आज काफी दिनों बाद 😭

खुद के लिए कुछ मांग नहीं सका

मां तेरे लिए दुआओं की कटोरी मांगी है

रात भर नींद नहीं आई मुझे

बस तुझसे दो पल बातें करना चाहता था

ख़ामोश सा शहर और गुफ़्तगू की आरज़ू

हम किससे करें बात, कोई बोलता ही नही.

बचके रहना इन बदलती हवाओं से,
हमें तो इन्होंने अपना आशिक ही बना दिया,
हफ्तों से लेटे हैं बिस्तर-सी सलाखों में,
बाहरी दुनिया से हमारा रिश्ता ही मिटा दिया।

तुम्हारी आंखों की गहराई में
खोना चाहता हूं मैं,

भर के बाहों में तुम्हें
सोना चाहता हूं मैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *